Breaking News
Home / Breaking News / कैमला में हुई घटना के बाद अमित शाह ने प्रदेश की खट्टर सरकार को दी बड़ी सलाह

कैमला में हुई घटना के बाद अमित शाह ने प्रदेश की खट्टर सरकार को दी बड़ी सलाह

NEW DELHI

DEV SHEOKAND 

कृषि कानूनों के विरोध में बुधवार को किसानों ने लोहड़ी के अवसर पर संकल्प दिवस मनाया। इस दौरान उन्होंने तीनों कृषि कानूनों की प्रतियां भी जलाईं। कुंडली बॉर्डर पर कट्टों में भरकर प्रतियां रखी गई थीं। इस दौरान किसानों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर लोहड़ी के गीत गाए।वहीं, मंगलवार रात को सीएम मनोहर लाल और डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की मीटिंग में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने करनाल के कैमला में हुई घटना पर फीडबैक लिया।

इसके बाद शाह ने सलाह दी कि प्रदेश में जब तक आंदोलन चल रहा है, तब तक कोई किसान पंचायत या राजनीतिक कार्यक्रम न करें। आंदोलन के बीच अब प्रदेश में कोई कार्यक्रम नहीं किए जाएंगे, ताकि टकराव को टाला जा सके। मीटिंग में शामिल रहे शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने भी कहा कि शाह ने सीएम मनोहर लाल के रैली में नहीं जाने के फैसले को सही बताया है। उन्होंने ही सलाह दी है कि टकराव की स्थिति न बने, इसलिए कोई कार्यक्रम न किया जाए। कोर्ट का फैसला आया है। इससे जल्द स्थिति सामान्य होगी।

संयुक्त किसान मोर्चा ने की सुप्रीम कोर्ट के कथन की निंदा

किसान नेता बलबीर सिंह राजेवाल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के दौरान यह कहा गया कि औरतें इस हड़ताल में क्यों हैं? औरतों और बुजुर्गों को इस हड़ताल में क्यों रखा गया है? उन्हें घर जाने को कहना चाहिए। सयुंक्त किसान मोर्चा इस तरह के कथनों की निंदा करता है। कृषि में महिलाओं का योगदान अतुलनीय है और यह आंदोलन महिलाओं का भी है। इस तरह से महिलाओं पर सवाल उठना बहुत ही शर्मनाक है। किसानों ने कहा कि हम 18 जनवरी को महिला किसान दिवस भी मनाएंगे।

किसान संगठनाें ने दावा किया है कि पूरे देश में 20 हजार से ज्यादा स्थानाें पर किसानाें ने कृषि कानूनाें की प्रतियां जलाई हैं। कानून की प्रतियां जलाने का सबसे बड़ा कार्यक्रम कुंडली बॉर्डर पर हुआ। किसान माेर्चा के परमजीत सिंह ने कहा कि तीनाें कानूनाें की एक लाख प्रतियां जलाई गईं।

About Dev Sheokand

Assignment Editor

Check Also

परिवहन विभाग से सरप्लस हुए ड्राइवरो को अब यहां किया जाएगा शिफ्ट , पढ़िए पूरी खबर

चंडीगढ़ Dev Sheokand हरियाणा के परिवहन विभाग में भारी वाहन चलाने वाले लगभग 1000 ड्राइवर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Watch Our YouTube Channel