Breaking News
Home / सम्पादकीय

सम्पादकीय

शामलात भूमि पर अधिकार को लेकर सरकार ने कही ये बात !

शिक्षकों को वेतन

पड़ोसी राज्यों के साथ भूमि विवाद खत्म करने के लिए हरियाणा सरकार ने फैसला लिया है कि अब केवल यूपी की सीमा पर ही नहीं बल्कि पांचों पड़ोसी राज्यों की सीमाओं पर पिल्लर लगाए जाएंगे। इसके लिए हरियाणा सरकार ने पानीपत जिले से इसकी शुरूआत कर दी है। यह जानकारी …

Read More »

क्या हम महिलाओं के प्रति निष्पक्ष हैं , पढ़िए संपादकीय विशेष !

क्या हम अपनी महिलाओं के प्रति निष्पक्ष हैं?लड़कियों के विवाह की निम्नतम आयु तय करने के पीछे यह उद्देश्य है कि उन्हें वित्तीय, शारीरिक , सामाजिक और भावानात्मक तौर पर शक्तिशाली बनाया जा सकें । इस्लाम में औरतों को कुछ सहूलियतें इसलिए दी गई है ताकि वे उचित शिक्षा प्राप्त …

Read More »

साधन संपन्न बच्चों की आंखों में होते हैं उन्नति और विकास के सपने , पढ़िए संपादकीय विशेष !

साधन संपन्न बच्चों की आँखों में विकास और उन्नति के सपने होते हैं ।यह बात मुस्लिम परिवारों में जन्म लेने वाले बच्चों में भी दिखीं जा सकती है ।किंतु इन बच्चों में अक्सर बेहद ग़रीबी की वजह से उनके सपने व इच्छाएँ पूरी नहीं हो पाते हैं । साधनों की …

Read More »

अफ़ग़ानिस्तान मे तालिबानियों के कृत्य है पूर्ण रूप से गैर इस्लामी!

अमरीकी फौजों के अफगानिस्तान से लौटने के बाद तालिबानी लड़ाकों ने इस देश पर पूरी तरह से कब्जा कर लिया। आज तालिबानियों की सही तस्वीर सामने आ रही है जिसमें वे बच्चों, औरतों और युद्ध न कर पाने वाले बूढ़े लोगों को मौत के घाट उतार रहे हैं। इन तालिबानियों …

Read More »

अफगानिस्तान का पतन और तालिबान का उत्थान , पढ़िए संपादकीय विशेष

एक 20 वर्षीय अफगानी कलाकार ने अपनी पहचान छिपाये रखने की शर्त पर बताया कि अफगानिस्तान की औरतों ने हमेशा ही तालिबानी शासन के अत्याचारों को सहा। उन्हें इस्लामी कानूनों के 'तालिबानी-रूप' (जो इस्लामी शिक्षाओं के विरूद्ध हैं) को मानने के लिए मजबूर किया गया और उनके मूल अधिकारों जैसे …

Read More »

मातृभूमि की सेवा करना ही इस्लाम का एक हिस्सा, पढ़िए संपादकीय कॉलम !

भारतीय सशस्त्र सेनाएं: मुस्लिमनौजवानों के लिए बेहतरीन मौका—-‘इस्लाम’ में अपनी मातृभूमि के प्रति वफादारी करना धर्म का ही एक हिस्सा है। इस्लाम में अपने धर्म का पालन करने और अपने देश केप्रति वफादार होने में कोई फर्क नहीं है। कुरान कहती है “ऐ ईमानवालों!अल्लाह को मानो और पैगम्बर को भी …

Read More »

हिंदुस्तान में है सभी धर्मों को समान स्वतंत्रता , पढ़िए संपादकीय विशेष

हिन्दुस्तानी आवाम और मुल्क की तरक़्क़ी: एक धर्म निरपेक्ष मुल्क होने के कारण हिन्दुस्तान प्रत्येक मज़हब, नस्ल इत्यादि से समान दूरी बनाए रखता है फिर भी इसकी विभिन्नता अपने नागरिकों को खुले मन से विभिन्न धर्मों एवं मजहबों जैसे हिन्दू , इस्लाम इत्यादि का पालन करना सुनिश्चित करती है और …

Read More »

विश्व मे शांति स्थापित करना है हजरत मोहम्मद का मिशन, पढ़िए संपादकीय मे

इस्लाम का गहराई से अध्ययन करने के बाद उसके कई आकर्षक पहलू सामने आए हैं जिनमें एक ‘शान्ति के सिद्धान्त’ पर उसका झुकाव है जो हज़रत मोहम्मद का मिशन भी था। हज़रत मोहम्मद साहब ने स्वयं ईसाइयों और यहूदियों से मिलकर विचार विमर्श किया था । इसके अलावा वे अपने …

Read More »

18 साल की उम्र मे इस युवा के रिकॉर्ड देख आप भी दबा लेंगे दांतो तले उंगलियां , जानिए कौन है ये युवा

हर्ष कँवर योगी ने सिर्फ 18 साल की उम्र मे कर दिए पाँच विश्व रिकॉर्ड स्थापित और इसी के साथ दो बार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हो चुके है सम्मानित और पांच बार राष्ट्रीय योगासन प्रतियोगिता में हिमाचल का प्रतिनिधित्व कर चुके है| और हिमाचल प्रदेश के गवर्नर बंडारू दत्तात्रेय ने …

Read More »

जनसंख्या रजिस्टर क्यों है जरूरी , पढ़िए संपादकीय विशेष

नई दिल्ली देव श्योकंद राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है जिसमें असम को छोड़कर सभी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में अप्रैल से सितंबर 2020 के द्वारा जनगणना- 2021 के अंतर्गत मकानों को सूचीबद्ध चरण में नवीनीकरण किया जाना था। इसका उद्देश्य पिछले दशक में जनसंख्या की वृद्धि को …

Read More »
Watch Our YouTube Channel