Thursday , February 20 2020
Breaking News
Home / Breaking News / गुरु जम्भेश्वर विश्विद्यालय में फिल्म वर्कशॉप का आयोजन, सुभाष घई ने युवा फिल्मकारों को दिए टिप्स

गुरु जम्भेश्वर विश्विद्यालय में फिल्म वर्कशॉप का आयोजन, सुभाष घई ने युवा फिल्मकारों को दिए टिप्स

भारतीय चित्र साधना, विश्व संवाद केंद्र हरियाणा एवं गुरु जम्भेश्वर विश्विद्यालय, हिसार के संयुक्त तत्वावधान में 3 अक्तुबर वीरवार को गुरु जम्भेश्वर विश्वविद्यालय के सभागार में फिल्म एप्रिसिएशन वर्कशॉप का आयोजन किया गया। कार्यशाला में हिसार व हरियाणा के विभिन्न शिक्षण संस्थान, फिल्म स्टूडियो, थिएटर समूह व अन्य व्यवसायिक हस्तियों ने भाग लिया। कार्यशाला में विश्वविद्यालय के संचार प्रबंधन एवं तकनीकी विभाग के विद्यार्थी भी बड़ी संख्या में मौजूद रहे।
इस कार्यशाला में विद्यार्थियों को फिल्म निर्माण व फिल्म महोत्सव के बारे में जानकारी दी गई। कार्यशाला में मुख्य रूप से दो सत्रों का आयोजन किया गया। पहले सत्र में मास्टर क्लास फिल्म निर्देशक कमलेश के. मिश्रा ने ली। उन्होने विद्यार्थियों को फिल्म निर्माण व नए दौर के सिनेमा की तकनीकों के बारे में बताया। उन्होंने फिल्म संपादन, फिल्म लेखन व सिनेमैटोग्राफी के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी और नई तकनीक के विभिन्न पहलुओं के बारे में बारिकी से बताया। कमलेश के. मिश्रा से विशेष बातचीत बॉलीवुड अभिनेता हरिओम कौशिक व फिल्म लेखक-निर्देशक विकास बेरवाल ने की।
दूसरे सत्र में भारतीय चित्र साधना के ट्रस्टी व फिल्म महोत्सव के संयोजक, वरिष्ठ पत्रकार, लेखक-निर्देशक अतुल गंगवार जी ने चित्र भारती फिल्म महोत्सव के बारे में विस्तृत  जानकारी दी। उन्होंने बताया कि विद्यार्थी लघु फिल्म, डॉक्यूमेंट्री फिल्म, एनिमेशन व कैंपस फिल्म्स की श्रेणियों में अपनी फिल्म महोत्सव के लिए भेज सकते हैं। उन्होंने कहा की फिल्म महोत्सव में भारतीय संस्कृति और मूल्य, भारतीय परिवार, सामाजिक समरसता, महिला, राष्ट्रीय सुरक्षा, शौर्य जैसे 11 विषयों पर केंद्रित फिल्में भेजी जा सकती हैं, जिसके लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 नवंबर है। प्रत्येक श्रेणी में बेस्ट फिल्म को एक लाख रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा।

प्रसिद्ध फिल्म निर्माता निर्देशक सुभाष घई ने युवा फिल्मकारों से की बात और फिल्म मेकिंग पर दिए टिप्स

सत्र के दौरान प्रसिद्ध निर्माता-निर्देशक सुभाष घई के फोन पर दिए गए संबोधन ने सभागार में उपस्थित सभी में उत्साह और जोश भर दिया। सभागार में अतुल गंगवार के साथ मुंबई से फोन कॉल पर जुड़े सुभाष घई ने विद्यार्थियों को फिल्म निर्माण से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आप भी अपने आसपास विभिन्न विषयों को चुन सकते हैं और एक अच्छे और बेहतरीन सिनेमा का निर्माण कर सकते हैं। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अपने गांव अपने शहर के बारे में सोचें और उस तरह के कंटेंट पर विचार कर आपको फिल्में बनानी चाहिए। वहीं से आपको रोचक व प्रेरक विषय मिल सकते हैं और इस तरह आप फिल्म निर्माण में नए प्रयोग भी कर सकते हैं।
कार्यशाला की अध्यक्षता विश्वविद्यालय के डीन प्रोफेसर विक्रम कौशिक ने की, साथ ही  संचार, प्रबंधन एवं तकनीकी विभाग के अध्यक्ष प्रो० उमेश आर्य भी मौजूद रहे। इसके अतिरिक्त विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों के प्रोफेसर एवं अन्यान्य क्षेत्रों से भी प्रमुख व्यक्ति कार्यशाला में उपस्थित रहे। कार्यशाला का ख़ूबसूरत मंच संचालन चंद्रशेखर पराशर ने किया। कार्यशाला में फिल्म फेस्टिवल की हरियाणा प्रांत टीम से विकास बेरवाल, चंद्रशेखर पराशर, गगन हरियाणवी मौजूद रहे।

About The Masla Team

Check Also

प्रत्येक माह के पहले मंगलवार को राजस्व दिवस मनाया जाएगा – दुष्यंत चौटाला

हरियाणा के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि अब प्रत्येक माह के पहले मंगलवार को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Watch Our YouTube Channel