Breaking News
Home / Breaking News / CM ने कहा – किसी भी कीमत पर गाँव में नहीं फैलने देंगे कोरोना

CM ने कहा – किसी भी कीमत पर गाँव में नहीं फैलने देंगे कोरोना

चंडीगढ़ । 

देव श्योकंद 

प्रदेश के अलग – अलग जिलों में अगर बात करें तो हालात बेकाबू हैं । गाँव के अंदर हर रोज लोग दम तोड़ रहे हैं । हर तरफ भय का माहौल पसरा हुआ है । लोगों को समझ नहीं आ रहा है कि करें तो क्या करें । गाँव के आंकड़े सरकारी आँकड़ों से मेल नहीं खा रहे हैं । जितने आँकड़े कागजों में हैं उससे कहीं ज्यादा मौतें गाँव के अंदर सामने आ रही है । बहुत से जिलों में बुखार के साथ साथ अचानक हार्ट अटैक कहर बरपा रहा है । दूसरी तरफ मुख्यमंत्री मनोहर लाल कह रहे हैं कि गाँव में कोरोना नहीं फैलने देंगे ।

कोई मुखिया जी को बताएगा कि जब आप दावा कर रहे हैं उस समय कोरोना गाँव में पाँव जमा चुका है । मुख्यमंत्री ने कहा है कि किसी भी हालत में इस महामारी को गांवों में फैलने नहीं देना है। गांवों में सकारात्मक का माहौल बनाने की जरूरत है और राज्य सरकार किसी भी हाल में इसमें योगदान देने से नहीं चूकेगी।मुख्यमंत्री ने प्रशासन को इस चुनौती से निपटने के लिए सभी संसाधन जुटाने के निर्देश दिए। अब अगर सरकार मैनेजमेंट के तहत रणनीति नहीं बनाती है तो हालात और भी भयंकर साबित हो सकते हैं । केवल प्रशासनिक अधिकारियों को बोलने से धरताल पर कार्य होना हमारे सिस्टम के खून में नहीं है ।

गांवों में ये मिलेगी राशि

हर गांव में एक आइसोलेशन सेंटर होना चाहिए। धर्मशालाओं, सरकारी स्कूलों या आयुष केंद्रों का उपयोग किया जा सकता है और इनमें सभी आवश्यक बुनियादी ढांचे की व्यवस्था की जाए। इस कार्य के लिए 10000 तक की आबादी वाले गांवों की प्रत्येक ग्राम पंचायत को 30000 रुपए, जबकि 10000 से अधिक आबादी वाले गांवों की ग्राम पंचायत को सभी बुनियादी व्यवस्था करने के लिए 50000 रुपए मिलेंगे।

एडवांस लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस के लिए 30 रु. प्रति किमी. निर्धारित

 सरकार ने प्राइवेट एम्बुलेंस चालकों के लिए रेट निर्धारित किए हैं। एडवांस लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस के लिए 30 रुपए प्रति किलोमीटर, बेसिट लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस के लिए 15 रुपए प्रति किलोमीटर निर्धारित किया है। 10 किलोमीटर के स्थानीय क्षेत्र के लिए सिर्फ 500 रुपए किराया निर्धारित किया है।

ये भी तैयारी

एनएबीएच व जेसीआई मान्यता प्राप्त अस्पतालों में आइसोलेशन बेड का 10000 रुपए, बिना वेंटिलेटर के आईसीयू बेड का 15000 रुपए व वेंटिलेटर युक्त आईसीयू बेड का 18,000 रुपए प्रतिदिन की दर से रेट तय किए हैं। बिना एनएबीएच मान्यता प्राप्त अस्पतालों में आइसोलेशन बेड का 8 हजार रु., बिना वेंटिलेटर के आईसीयू बेड का 13,000 रुपए, वेंटिलेटर युक्त आईसीयू बेड का 15,000 रुपए प्रतिदिन की दर से रेट तय किए हैं।

बिना एनएबीएच मान्यता प्राप्त अस्पतालों में सामान्य वार्ड के लिए 2160 प्रतिदिन, एनएबीएच मान्यता प्राप्त अस्पतालों के लिए 2400 रुपए प्रतिदिन निर्धारित किया है। बिना एनएबीएच मान्यता प्राप्त अस्पतालों में एचडीयू श्रेणी के वार्ड के लिए 3240 रुपए, एनएबीएच मान्यता प्राप्त अस्पतालों के लिए 3600 रुपए प्रतिदिन निर्धारित किया है।

About Dev Sheokand

Assignment Editor

Check Also

इंटरनेट पर प्यार के बढ़ते ही जा रहे हैं किस्से, अब ये ताज़ा मामला आया सामने !

पानीपत देव श्योकंद सोशल मीडिया व गेमिंग एप पर दोस्ती, प्यार और प्रेम-प्रसंग के कई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Watch Our YouTube Channel