Breaking News
Home / Breaking News / स्कूल खोलने के लिए नई गाइडलाइन हुई जारी , ये रहेगी पूरी प्रक्रिया

स्कूल खोलने के लिए नई गाइडलाइन हुई जारी , ये रहेगी पूरी प्रक्रिया

चंडीगढ़:

हरियाणा में 16 जुलाई से 9वीं से 12वीं तक की कक्षाएं शुरू होंगी। 23 जुलाई से छठी से 8वीं तक की कक्षाएं लगेंगी। शिक्षा विभाग के स्टेट मुख्यालय से सभी जिला शिक्षा अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिग कर एसओपी (स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रॉसीजर) जारी की गई है। इसके अनुसार, कक्षाएं सुबह 8:30 से 11:30 बजे तक लगेंगी। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए विद्यार्थियों के बीच कम से कम छह फीट की दूरी रखी जाएगी। पिछली बार से सबक लेते हुए सरकार ने मेडिकल सर्टिफिकेट की अनिवार्यता नहीं रखी है। क्योंकि मेडिकल सर्टिफिकेट की अनिवार्यता के चलते पिछली बार अस्पतालों में बच्चों की लाइनें लगी थीं, इसके बाद बच्चों में संक्रमण फैल गया था।

*

हर डेस्क पर विद्यार्थी का नाम लिखा जाएगा, विद्यार्थी को वही डेस्क  बैठेगा। 

एक दूसरे से स्टेशनरी भी शेयर नहीं कर सकेंगे।
मिड-डे-मील नहीं मिलेगा। सिर्फ राशन दिया जाएगा।

जो विद्यार्थी घर रहकर पढ़ाई करना चाहते हैं, उनके लिए ऑनलाइन पढ़ाई जारी रखनी होगी।
उपस्थिति को लेकर कोई बाध्यता नहीं रहेगी, न ही दबाव बनाया जाएगा।

स्कूल आने वाले विद्यार्थी, स्टाफ व अन्य लोगों का गेट पर तापमान चेक होगा। अवसर एप पर हाजिरी के साथ यह भी दर्ज होगा। इसकी रिपोर्ट मुख्यालय तक जाएगी।

एक दिन में 50% विद्यार्थी ही स्कूल बुलाए जा सकेंगे। एक सेक्शन में 30 से अधिक बच्चे नहीं बैठाए जाएंगे। स्कूल आने के लिए विद्यार्थी को पैरेंट्स से लिखित अनुमति लेनी होगी।

माता-पिता से अपील की गई है कि बच्चों को साइकिल से स्कूल जाने के लिए प्रोत्साहित करें।

स्कूलों में आने-जाने के कक्षावार रास्ते बनाए जाएंगे। स्कूल में एक से अधिक गेट होंगे। स्कूलों के खोलने व बंद करने का समुचित अंतराल से सेक्शनवाइज कार्यक्रम बनेगा।

स्कूलों में दिशा-निर्देश के लिए समुचित साइन बोर्ड लगाए जाएंगे। सभी विद्यार्थियों, अध्यापकों व अन्य कर्मचारियों को समुचित प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

*स्कूलों में बनेगी कमेटी*

इस बार एसओपी का पालन कराने के लिए स्कूलों में कमेटी बनेगी। विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष इसके अध्यक्ष होंगे। स्कूल मुखिया सदस्य सचिव, पीटीआई या डीपी के साथ 2 अध्यापक प्रति सप्ताह सदस्य होंगे। कंप्यूटर अध्यापक, सभी सदनों के अध्यक्ष, एनसीसी, एनएसएस, स्काउट गाइड के विद्यार्थी, सक्षम युवा भी सदस्य होंगे। कमेटी को किसी कक्षा में मिले कोविड पॉजिटिव केस में मेडिकल सहायता, परामर्श और जांच के लिए समन्वय करना।

About Dev Sheokand

Assignment Editor

Check Also

भाजपा ने अपने सांसदों के लिए जारी किया ये जरूरी निर्देश, पढ़िए पूरा मामला इस खबर मे !

नई दिल्ली देव श्योकंद भाजपा ने अपने सभी सांसदों को 29 नवंबर को सदन में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Watch Our YouTube Channel