Breaking News
Home / Breaking News / हरियाणा में लाल बत्ती न सही अब कुछ इस तरह से गाड़ी पहचाने जायेंगे विधायक साहब

हरियाणा में लाल बत्ती न सही अब कुछ इस तरह से गाड़ी पहचाने जायेंगे विधायक साहब

नेता हो और वो अपने आप को वीआईपी न दिखाये ये कैसे हो सकता है। हरियाणा में अब लाल बत्ती ता तोड़ निकाला जा रहा है। लाल बत्ती को तो बैन कर दिया गया था तो अब ये कैसे पता चले कि फलां गाड़ी में विधायक या मंत्री जा रहा है।

 

दरअसल लाल बत्ती हटने के बाद वीआईपी कल्चर से बाहर हुए विधायकों की गाड़ी की अब दूर से पहचान हो सकेगी। जल्द मंत्रियों की तरह अब इन गाड़ियों पर भी झंडी लगेगी। अभी गाड़ी में कौन बैठा है, इसकी जानकारी विधायक की ओर से न दिए जाने तक न तो किसी कर्मचारी-अधिकारी को होती है और न ही आम आदमी को। इसलिए अब एमएलए लिखी झंडी गाड़ी पर लगेगी तो माननीयों को कुछ वीआईपी ट्रीटमेंट शुरुआत में ही मिलने लग जाएगा।

 

खबर ये है रि इन झंडियों का डिजाइन तैयार हो चुका है। इसे स्पीकर ने मंजूरी दी है। बताया जा रहा है कि मॉनसून सत्र से पहले विधायकों की गाड़ियों पर ये झंडियां लग जाएंगी। विधायकों को हालांकि अभी विधानसभा से एमएलए लिखा स्टीकर जारी किया है, जो गाड़ियों के शीशे पर लगा है। पुलिस कर्मचारी हो या अन्य कोई, इस पर जल्दी नजर नहीं जाती। इसलिए कई उन्हें पार्किंग से लेकर रास्ते तक में रोक लिया जाता है। इससे कई बार विधायकों व पुलिस की बहस होने की खबरें भी आती रहती हैं।

 

बताया जा रहा है कि विधायकों ने पहचान के लिए झंडी की मांग थी। इसके अलावा गाड़ी की मांग भी की जाती रही है, जिसके लिए सरकार इनकार कर चुकी है। पुलिस अधिकारियों से लेकर प्रशासनिक अधिकारियों की गाड़ियों आगे पद नाम की झंडी लगी होती है। तो अगर विधायकों की गाड़ी पर झंडी लग जायेगी तो कुछ न कुछ तो वीआईपी फीलिंग इनको आयेगी ही।

About The Masla Team

Check Also

प्रदेश में 24 पुलिस इंस्पेक्टरों को मिला प्रमोशन का तोहफा , पदोन्नति पाकर बने डीएसपी , देखिए ये सूची

चंडीगढ़ ।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Watch Our YouTube Channel