Breaking News
Home / Breaking News / ओमप्रकाश चौटाला व नीतीश कुमार की मुलाकात के क्या है मायने , पढ़िए सियासी अपडेट

ओमप्रकाश चौटाला व नीतीश कुमार की मुलाकात के क्या है मायने , पढ़िए सियासी अपडेट

 

चंडीगढ़

देव श्योकंद 

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जद (यू) नेता के सी त्यागी ने रविवार को इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) अध्यक्ष ओमप्रकाश चौटाला से हरियाणा के गुरुग्राम स्थित उनके आवास पर मुलाकात की तथा उनका कुशलक्षेम जानने के साथ ही राजनीतिक मामलों पर भी चर्चा की। बीजेपी के सहयोगी जनता दल (यूनाइटेड) के नेताओं ने 86 वर्षीय इनेलो प्रमुख से ऐसे समय मुलाकात की है, जब वह राष्ट्रीय स्तर पर ‘तीसरे मोर्चे’ के गठन की पैरवी कर रहे हैं।

इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला ने ट्वीट किया कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार और जद(यू) महासचिव त्यागी ने चौधरी ओमप्रकाश चौटाला से गुरुग्राम स्थित उनके आवास पर मुलाकात की तथा उनका कुशलक्षेम जानने के साथ ही राजनीतिक मामलों पर चर्चा की। दरअसल नीतीश कुमार और केसी त्यागी ने पूर्व में ओमप्रकाश चौटाला के पिता एवं पूर्व उपप्रधानमंत्री दिवंगत देवीलाल के साथ काम किया था।

*मोदी सरकार को किसान विरोधी बता चुके हैं ओमप्रकाश चौटाला*

वहीं इससे पहले ओमप्रकाश चौटाला ने पिछले सप्ताह कहा था कि आज की सबसे बड़ी आवश्यकता केंद्र की ‘जनविरोधी’ और ‘किसान विरोधी’ सरकार से मुक्ति पाने की है। केंद्र में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नीत सरकार है तथा बिहार में जद(यू) और हरियाणा में जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के साथ उसकी गठबंधन सरकार है।

*25 सितंबर यानि देवीलाल की जयंती पर बड़ा ऐलान?*

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा था कि वह 25 सितंबर को देवीलाल की जयंती से पहले विपक्ष के नेताओं से मिलने की कोशिश करेंगे और उनसे एक मंच पर आने का आग्रह करेंगे। ऐसे में ये देखना अहम होगा कि ओम प्रकाश चौटाला की तीसरा मोर्चे को तैयार करने की कोशिश कहां तक कामयाब हो सकती है लेकिन नीतिश कुमार से ओम प्रकाश चौटाला की मुलाकात ने अटकलों का बाजार जरूर गर्म कर दिया है।

*मुलाकात पर क्या बोले ओम प्रकाश चौटाला ?*

ओम प्रकाश चौटाला ने नीतीश कुमार के साथ दोपहर भोज के दौरान अपनी बैठक की घोषणा का जिक्र करते हुए मंगलवार को कहा था, ‘वह एक अगस्त को मेरे आवास पर मेरे साथ दोपहर का भोजन करेंगे।’ उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा था, ‘जब दो राजनीतिक नेता साथ बैठते हैं तो राजनीतिक मुद्दों पर चर्चा होना स्वाभाविक है।’

About Dev Sheokand

Assistant Editor

Check Also

विधानसभा के मानसून सत्र में अबकी बार ये चीजें होंगी खास

आठ अगस्त से हरियाणा विधानसभा का मानसून सत्र शुरू होगा। हरियाणा गठन के बाद पहली …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Watch Our YouTube Channel