Home / Breaking News / इस लेडी डाॅन का साथी है मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी लेने वाला गैंगस्टर

इस लेडी डाॅन का साथी है मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी लेने वाला गैंगस्टर

मशहूर पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी लेने वाले गैंगस्टर गोल्डी बरार का राजस्थान से भी कनेक्शन है। कनाडा में बैठा गैंगस्टर बरार राजस्थान की लेडी डॉन अनुराधा का क्राइम पार्टनर रह चुका है। यह वही गोल्डी बरार है, जो कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस से जुड़ा है।

लेडी डॉन अनुराधा राजस्थान के कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल की गर्लफ्रेंड थी। जून 2017 में आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद अनुराधा ने लॉरेंस की गैंग को जॉइन कर लिया था। इसके बाद से वह काला जठेड़ी के साथ मिलकर गैंग को ऑपरेट करने लगी थी। अनुराधा ने लॉरेंस की मदद से गोल्डी के साथ इंटरनेशनल क्राइम सिंडिकेट बना लिया था।

अनुराधा ने अपने नए पति गैंगस्टर काला जठेड़ी के साथ पार्टनरशिप में अपने 20 विरोधियों का सफाया भी कर दिया था। इस बात का खुलासा दिल्ली पुलिस ने किया था, जब अनुराधा और काला जठेड़ी को 31 जुलाई 2021 को पकड़ा गया था।

दिल्ली पुलिस ने जब अनुराधा और काला जठेड़ी से पूछताछ की तो गोल्डी बरार का नाम सामने आया था। पूछताछ में बताया था कि वे इंटरनेशनल गिरोह चला रहे थे।

इस गिरोह में कुख्यात बदमाश वीरेंद्र प्रताप उर्फ काला राणा, निवासी करनाल (हरियाणा) थाईलैंड से, सतेंद्रजीत सिंह उर्फ गोल्डी बरार निवासी मुक्तसर पंजाब, कनाडा से और मोंटी निवासी पंजाब, UK से गैंग को ऑपरेट कर रहे थे। गैंगस्टर लॉरेंस और सूबे गुर्जर भी इनकी इंटरनेशनल गैंग की मदद कर रहे थे।

लेडी डॉन अनुराधा की अगुआई में काला जठेड़ी, कनाडा में बैठा गोल्डी बरार, थाईलैंड में बैठा वीरेंद्र प्रताप और पंजाब का मोंटी दिल्ली, राजस्थान, पंजाब और हरियाणा में अंडर वर्ल्ड जैसी दुनिया बनाना चाह रहे थे।

अनुराधा के कहने पर इन सब ने मिलकर महज 2 साल में ही अपने विरोधियों का सफाया कर दिया था। ये इंटरनेशनल क्राइम सिंडिकेंट हाई-प्रोफाइल वसूली, अंतरराज्यीय शराब तस्करी, अवैध हथियारों की तस्करी और जमीन हथियाने के कामों में एक्टिव थी।


राजस्थान की लेडी डॉन अनुराधा को 10 महीने पहले दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने गैंगस्टर काला जठेड़ी के साथ गिरफ्तार किया था। उत्तराखंड से लौट रहे दोनों अपराधियों की गिरफ्तारी UP के सहारनपुर से हुई थी। इनके पास से पिस्टल और रिवॉल्वर भी बरामद की गई थी। फिलहाल अनुराधा राजस्थान की अजमेर जेल में बंद है।


हिस्ट्रीशीटर बलबीर बानूड़ा के जरिए अनुराधा कुख्यात अपराधी आनंदपाल के संपर्क में आई थी। बताते हैं कि आनंदपाल के ठेठ पहनावे को अनुराधा ने ही बदला था। यहां तक कि उसे अंग्रेजी बोलना भी सिखाया था। इसी के बदले आनंदपाल ने अनुराधा को AK-47 चलाना सिखाया था।

अनुराधा अवैध हथियार की हेराफेरी में आनंदपाल का सहयोग करती थी। आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद वह फरार हो गई थी। फरारी के दौरान लॉरेंस की मदद से अनुराधा की मुलाकात काला जठेड़ी से हुई। इसके बाद वह उसकी पूरी गैंग को ऑपरेट करने लगी।

राजस्थान में लेडी डॉन अनुराधा के खिलाफ हत्या और अपहरण के 12 से ज्यादा मामले दर्ज हैं। इसमें लूट, किडनैपिंग, रंगदारी मांगने समेत कई गंभीर अपराध भी हैं। पुलिस के अनुसार इनमें सबसे अधिक मामले अपहरण के हैं।


सीकर की रहने वाली अनुराधा के घर का नाम मिंटू है। बचपन में ही मां के गुजरने के बाद मिंटू (अनुराधा) के सिर पर सिर्फ पिता का ही साया बचा था। आर्थिक हालत कमजोर होने के चलते पिता कमाने के लिए बाहर चले गए।

अनुराधा पढ़ाई में तेज थी। उसने BCA जैसी प्रोफेशनल डिग्री ली थी। नॉर्मल जॉब उसका एंबिशन नहीं था। शादी के बाद अनुराधा और उसके पति फैलिक्स दीपक मिन्ज ने सीकर में शेयर ट्रेडिंग का काम शुरू किया था। दोनों ने मिलकर लोगों के लाखों रुपए ट्रेडिंग में लगवा दिए। अचानक उनका धंधा चौपट हुआ और वे करोड़ों के कर्ज में डूब गए। कर्ज खत्म करने के लिए अनुराधा ने जुर्म का रास्ता चुना। उसने अपने पति को भी छोड़ दिया।

About Dev Sheokand

Assistant Editor

Check Also

महेंद्र सिंह धोनी के खिलाफ हुआ केस दर्ज

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के खिलाफ बिहार के बेगूसराय में …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Watch Our YouTube Channel